उप्र बोर्ड परीक्षा : उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन आठ मार्च से
February 18, 2019 • NP Network

                                                                                                        लखनऊ । उत्तर प्रदेश बोर्ड की परीक्षाएं चल रही हैं इसके बाद मूल्यांकन का काम शुरू होना है। बोर्ड सचिव नीना श्रीवास्तव ने बताया कि इस बार कापियों का मूल्यांकन हर हाल में 15 दिनों में पूरा करना है। इसके लिए विभाग ने परी तैयारी कर ली है। उन्होंने बताया कि इस बार मूल्यांकन के बाद 100 प्रतिशत कॉपियों का अंकेक्षण (अॉडिट) करवाने का प्रस्ताव तैयार दिया गया है। शासन से अनुमति मिलने के बाद सभी कॉपियों की दोबारा जांच करवाएंगे ताकि मूल्यांकन को लेकर होने वाली शिकायतें कम की जा सके। गौरतलब है कि इस बार परीक्षाएं दो मार्च को ही खत्म हो जाएंगी लेकिन चार मार्च को शिवरात्रि का स्नानपर्व होने के कारण कॉपियों को मूल्यांकन केंद्रों तक भेजने में परेशानी को देखते हुए मूल्यांकन की शुरुआत की तारीख आठ मार्च तय की गई हैइसके शक महीने वाट अवैल के साती सप्ताह में परिणाम घोषित किया जाएगा। इस बार प्रदेश भर में 231 केंद्र बनाए जा रहे हैं। छात्र-छात्राओं की संख्या में नौ लाख की कमी होने के कारण तकरीबन डेढ़ दर्जन मूल्यांकन केंद्र कम हुए हैं। बोर्ड परीक्षाएं सात फरवरी से शुरू होकर दो मार्च तक चलेंगी। हाईस्कूल की परेक्षा जहा 28 फरवरी को समाप्त हो जाएगी वहीं इंटरमीडिएट की परीक्षा दो मार्च को सम्पन्न होगी।