चन्दौली में गंगा की बाढ़ से तवाही
September 23, 2019 • NP Network

बीते कई दिनों से उत्तरांचल व पश्चिमी जिलों के साथ साथ मध्यप्रदेश में हुई अनवरत वर्षा से यमुना व उसकी  सहायक नदियों के जलस्तर में बृध्दि का असर चंदौली में गंगा में भी दिखने लगा है। आलम यह है कि जनपद के गंगा के तटवर्ती क्षेत्र के लगभग 2 दर्जन से अधिक गांवों में गंगा के बाढ़ का पानी अब घुसने लगा है।किसानों के हजारों एकड़ खेत जलमग्न हो गए हैं और पशुवों के लिए चारे का संकट उत्पन्न हो गया है। अपर जिलाधिकारी बच्चा लाल ने बताया कि मुगलसराय तहसील के 8 गाँव और सकलडीहा तहसील के 10 गाँव बाढ़ प्रभावित है।जहाँ 17 बाढ़ राहत चौकियाँ स्थापित की गई हैं।गाँवों में लोगों को आने जाने के लिए नावें लगा दी गई है।उन्होंने बताया कि बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों के लिए पशुपालन , स्वास्थ्य और पंचायतीराज विभाग को एलर्ट जारी कर दिया गया है।

केंद्रीय जल आयोग के अनुसार चंदौली में गंगा का जल स्तर में आज 4 सेमी की कमी दर्ज की गई है।सुबह 10 बजे तक गंगा खतरे के निशान से लगभग 67 सेमी0 ऊपर ही बह रही हैं । समाचार दिये जाने तक बाढ़ राहत शिविरों में 4 दर्जन से ऊपर पीड़ित आ गए हैं।जहां उनके रहने खाने का समुचित प्रबंध किया गया है।इसके साथ ही पशुओं के लिए चारे की भी व्यवस्था की गई है।चहनियां ब्लाक के महुवरिया ग्राम सभा के पकड़ी मौजे के हालत ,टापू जैसा बन गया है।लोगों को अपनी जरूरतों और स्कूली बच्चों को विद्यालय जाने के लिए नाव का सहारा लेना पड़ रहा है।