पुलवामा हमले के बाद बदले में भारतीय वायुसेना की पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई
February 27, 2019 • NP Network

भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान के खिलाफ खिलाफ बड़ी सैन्य कार्रवाई की है। सरहद पर पाकिस्तानी रडार के एक्टीव होने के बावजूद भारतीय वायुसेना ने मुजफ्फराबाद, बालाकोट समेत 10 जगहों पर घुसकर 1000 किलो बम गिराया है। इस ऑपरेशन में भारतीय वायुसेना के 12 मिराज युद्धक विमान ने हिस्सा लिया और लेजर गाइडेड मिसाइल से ये हमला किया।
आपको बता दें कि भारतीय वायू सेना ने पाकिस्तान के मुजफ्फराबाद, बालाकोट समेत 10 जगहों पर ये हमला किया है। खास बात ये है कि भारतीय वायुसेना ने पाकिस्तान में घुसकर ये हमला किया है। आपको बता दें कि भारतीय वायुसेना ने बालाकोट में भी हमला किया है। आपको बता दें कि बालाकोट पाकिस्तान के ख़ैबर पख़्तूनख़्वा का हिस्सा है जो एबटाबाद से महज 60 किलोमीटर दूर है। गौरतलब है कि अमेरिका ने एबटाबाद में ही आतंकी ओसामा बिन लादेन को घुसकर मार गिराया था।
भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ बड़ी कार्रवाई की है। भारतीय वायुसेना ने आज सुबह पाकिस्तान में घुसकर 1000 किलो से ज्यादा बम गिराए हैं। न्यूज एजेंसी एनएनआई के मुताबिक आज तड़के वायुसेना के मिराज विमानों ने PoK के बालाकोट और चकोटी में जबर्दस्त बमबारी कर आतंकियों के ठिकाने तबाह किए। जानाकरी के मुताबिक भारतीय वायुसेना की इस कार्रवाई में पाकिस्तान के 200 से 300 आतंकी मारे गए हैं। इस हलमें जैश के कई ठिकानों पूरी तरह से तवाह हो गए हैं। पाकिस्तानी सेना भारतीय विमानों के PoK में घुसने की बात तो मान रही है, लेकिन किसी बड़े नुकसान की खबर को खारिज कर रही है।
जानकारी के मुताबिक भारतीय वायु सेना ने मिराज युद्धक विमान से पाकिस्तान के आतंकी लॉन्चिक पैड और आतंकी ठिकानों पर हमला किया है। बताया जा रहा है कि सुबह 3.30 बजे भारतीय वायुसेना के 12 मिराज विमान ने पाकिस्तान में घुसकर ये हमला किया। बताया जा रहा कि भारतीय वायुसेना के करीब 12 मिराज 2000 लड़ाकू विमान आज तड़के करीब साढ़े तीन बजे पाक के कब्जे वाले कश्मीर में घुसे। इन विमानों ने बालाकोट और चकोटी में एक हजार किलो के बम गिराए। इस हमले में जैश के आतंकी कैंपों को निशाना बनाया गया। हमले के बाद विमान भारतीय सीमा में सुरक्षित लौट आए। बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत ने अपने सुरक्षाबलों को कार्रवाई के लिए खुली छूट दे दी थी। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा था कि पुलवामा आतंकी हमला के साजिशकर्ताओं को छोड़ा नहीं जाएगा और सेना अपने हिसाब से कार्रवाई करेगी।
आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती आतंकी हमले में 44 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान से संचालित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। इस हमले के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा था कि इस हमले का करारा जवाब दिया जाएगा। इसके साथ ही उन्होंने कहा था कि भारत ने इस हमले का बदला लेने के लिए अपने सुरक्षाबलों को खुली छूट दे दी है।