कानपुर मेट्रो के सिविल कंस्ट्रक्शन का शिलान्यास करेंगे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
November 15, 2019 • NP Network

मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (एलएमआरसी) का नाम बदल कर उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड (यूपीएमआरसीएल)  किए जाने के बाद कानपुर मेट्रो के सिविल कंस्ट्रक्शन की भी शुरुआत कानपुर मेट्रो प्रोजेक्ट के प्रियोरोटी कॉरिडोर (आईआईटी कानपुर से मोती झील) के कंस्ट्रक्शन वर्क का शिलान्यास मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ करेंगे।

आईआईटी कानपुर के मुख्य द्वार के समीप बने कंस्ट्रक्शन साइट लोकेशन से ही मुख्यमंत्र कार्यों का जायजा लेंगे और विधिवत शुभारंभ करेंगे। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ केंद्रीय आवासन एवं शहरी कार्य राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) हरदीप सिंह पुरी, उत्तर प्रदेश सरकार के  मुख्य सचिव, हाउसिंग (उत्तर प्रदेश सरकार) के अपर सचिव, कानपुर निगमायुक्त व यूपीएमआरसीएल के वरिष्ठ अधिकारियों की भी मौजूदगी रहेगी।

कंस्ट्रक्शन साइट का शुभारंभ करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आईआईटी कानपुर के ऑडीटोरियम में अधिकारियों व अतिथियों को संबोधित करेंगे। 

8.728 किमी लंबे प्रायोरिटी कॉरिडोर के एलिवेटेड सेक्शन निर्माण की जिम्मेदारी  13.09.2019 को एफकॉन इंफ्रास्टक्चर लिमिटेड को दी गई है जिसके पाइलिंग की शुरुआत होगी। 
इस  खंड में आईआईटी कानपुर, कल्याणपुर रेलवे स्टेशन, एसपीएम अस्पताल, सीएसजेएम विश्वविद्यालय, गुरुदेव चौराहा, गीता नगर, रावतपुर रेलवे स्टेशन, लाला लाजपत राय अस्पताल व मोती झेल स्टेशन शामिल हैं।
इस प्राथमिकता अनुभाग की अनुमानित लागत लगभग 2000 करोड़ है। और यह अनुमान है कि प्राथमिकता वाले गलियारे पर मेट्रो परिचालन लगभग 2 वर्षों के भीतर शुरू हो जाएगा। 
कानपुर मेट्रो रेल परियोजना के कॉरिडोर एक  के डिपो का निर्माण सरकारी पॉलिटेक्निक की भूमि पर किया जाएगा।

यूपीएमआरसी ने पहले लखनऊ मेट्रो उत्तर-दक्षिण कॉरिडोर परियोजना का काम साढ़े चार साल के रिकॉर्ड समय के भीतर पूरा किया था और अब तक यह देश में सबसे तेजी से निर्मित और निष्पादित मेट्रो रेल परियोजना है।