लखनऊ व नोएडा में पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम लागू
January 13, 2020 • NP Network

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए एक कदम बढ़ाते हुए सरकार ने प्रदेश के 2 बड़े शहरों लखनऊ व नोएडा में पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम को लागू किया है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस प्रस्ताव को कैबिनेट में पास कराने के बाद कहा कि पुलिस एक्ट में 10 लाख से ऊपर आबादी वाले शहरों में पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम लागू करने की बात कही गई है लेकिन राजनीतिक इच्छाशक्ति ना होने के कारण ऐसा नहीं हो सका अब हमारी सरकार ने इस सिस्टम को स्वीकृति दी है। उन्होंने कहा कि लखनऊ की आबादी करीब 40 लाख वार नोएडा की आबादी 25 लाख से अधिक है। 
कैबिनेट में इस प्रस्ताव को पास होने के बाद प्रशासन ने 13 आईपीएस के तबादले भी किए हैं सुजीत पांडे लखनऊ के वाह आलोक सिंह नोएडा के पहले पुलिस कमिश्नर होंगे। बताते चलें कि पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम में पुलिस के पास लॉ एंड ऑर्डर के अलावा धारा 144 कर्फ्यू गैंगस्टर लगाने जैसे अधिकार भी होंगे वहीं जिलाधिकारी के पास आपका रीवा आर्म्स लाइसेंस देने के अधिकार रहेंगे।
पुलिस कमिश्नरेट सिस्टम में प्रदेश की कानून व्यवस्था की तस्वीर कितनी बदलेगी यह तो भविष्य बताएगा लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स में पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों की इस मामले पर अलग-अलग प्रतिक्रियाएं आ रही हैं।
जहां एक और प्रदेश के पूर्व डीजीपी रहे प्रकाश सिंह, सुलखान सिंह, विक्रम सिंह का कहना है कि जहां यह सिस्टम लागू है वहां बेहतर परिणाम देखने को मिले हैं। वही सेवानिवृत्त आईएएस योगेंद्र नारायण, आलोक रंजन आदि का कहना है कि कमिश्नर सिस्टम से व्यवस्था बेहतर होगी इसका की क्या गारंटी है, किसी भी व्यवस्था को लागू करने से पहले यह देखा जाना चाहिए कि आम लोगों पर इसका क्या असर पड़ेगा।